Monday, April 2, 2018

20 हजार की रिश्वत लेते देलवाड़ा थानेदार और देलवाड़ा सरपंच गिरफ्तार

राजसमंद. भ्रष्ट्राचार निरोधक ब्यूरो राजसमंद की टीम ने सोमवार शाम को देलवाड़ा पनुलिस थाने में 20 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए थानेदार माधवसिंह और देलवाड़ा सरपंच दिनेश पालीवाल को गिरफ्तार कर लिया। थानेदार ने यह रिश्वत की राशि सरपंच के शांतिभंग के मुकदमे को रफादफा करने की एवज में ली थी। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की कार्रवाई से समूचे देलवाड़ा थाने के अफसरों व जवानों में हडक़ंप मच गया। जानकारी के अनुसार भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो को शिकायत मिली थी कि धारा 151 के शांतिभंग मामले की फाइल बंद करने की एवज में देलवाड़ा थाना पुलिस द्वारा 20 हजार रुपए की रिश्वत मांगी जा रही है। एसीबी द्वारा सत्यापन कराया गया, जिसमें पाया गया कि थानेदार माधवसिंह ने देलवाड़ा सरपंच दिनेश पालीवाल के मार्फत रिश्वत की राशि मांगी थी। इसका सत्यापन होने के साथ ही भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो दल ने रंगे हाथ रिश्वत लेते पकडऩे के लिए कार्ययोजना बनाई। इसके तहत फरियादी को रिश्वत की राशि लेकर सोमवार शाम पांच बजे देलवाड़ा थाने बुलाया गया, जहां रिश्वत की राशि देलवाड़ा सरपंच ने लेकर देलवाड़ा थानेदार माधवसिंह को सौंप दी। इसके बाद फरियादी का इशारा पाते ही एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश चौधरी ने मय दल के दबिश दे दी। सरपंच व थानेदार को पकडऩे के बाद उनकी तलाशी लेकर उनसे 20 हजार रुपए की राशि बरामद कर ली और दोनों के हाथ धुलवाए गए, जिससे उनके हाथ पर रंग उभर आया। एसीबी दल ने रिश्वत की राशि जब्त करने के बाद थाना कार्यालय व आवास की भी तलाशी ली। उसके बाद एसीबी टीम दोनों आरोपितों को लेकर राजसमंद एसीबी कार्यालय पहुंची, जहां गहन पूछताछ के बाद रिपोर्ट तैयार की गई।
2 लाख की बजाय उठाए प्रति माह 9-9 लाख 
नाथद्वारा शहर में जल वितरण व्यवस्था में कई फर्जी कार्मिकों के नाम पर लाखों रुपए का भुगतान नगरपालिका नाथद्वारा से उठाने की शिकायत पर भ्रष्ट्राचार निरोधक ब्यूरो ने सोमवार दोपहर को नगरपालिका नाथद्वारा में छापा मार कार्रवाई की। बिना टेंडर के ही तत्कालीन नगरपालिका आयुक्त तनुजा सोलंकी व जन स्वास्थ्य अभियांत्रिक विभाग के सहायक अभियंता नाथूसिंह राठौड़ द्वारा उदयपुर की स्वयंसेवी संस्था को कार्मिक सप्लाई का कार्य दे दिया। संस्था के अधीन करीब 40 कार्मिक कार्यरत है, जिनका मासिक वेतन 5 हजार रुपए के आधार पर 2 लाख रुपए प्रतिमाह बन रहा है, मगर संस्था को प्रतिमाह 9 लाख रुपए भुगतान करने का आरोप है। एसीबी ने जांच के बाद नगरपालिका से आवश्यक रिकॉर्ड जब्त कर लिया। इस दौरान जलदाय विभाग कनिष्ठ अभियंता दीपमाला सैनी, नगरपालिका आयुक्त लजपालसिंह भी मौजूद थे। एसीबी ने उनके बयान भी लिए।

Monday, February 26, 2018

विद्यार्थी मित्रों को अभियान चलाकर ग्राम सहायक के रूप में समायोजित किया जाएगा

 पंचायतीराज एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री राजेन्द्र राठौड़ ने सोमवार को विधानसभा में कहा कि प्रदेश भर के विद्यार्थी मित्रों को अभियान चलाकर ग्राम सहायक के रूप में समायोजित करने का काम किया जाएगा।

श्री राठौड ने शून्यकाल में इस संबंध में उठाये गये मुद्दे पर हस्तक्षेप करते हुए बताया कि वर्तमान में 19 हजार 687 विद्यार्थी मित्र ग्राम सहायक के रूप में काम कर रहे है। उन्होंने बताया कि 2013 में 25 हजार 420 विद्यार्थी मित्र नियमित करने की मांग को लेकर न्यायालय में गये। 21 अक्टूबर 2013 को न्यायालय द्वारा विद्यार्थी मित्र योजना को ही असंवैधानिक बता दिया गया। इसके पश्चात् यह मामला सर्वोच्च न्यायालय मंज चला गया एवं वहां भी विद्यार्थी मित्रों की नियुक्ति को असंवैधानिक करार दिया गया। 

पंचायतीराज एवं ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा इन विद्यार्थी मित्रों को राहत देने के लिए कटारिया समिति का गठन किया गया एवं पंचायती राज अधिनियम में संशोधन कर ग्राम सहायक के रूप में इन विद्यार्थी मित्रों को समायोजित किया गया। 
उन्होंने बताया कि गांवों में मॉडल विद्यालय बनने के पश्चात् नामांकन का स्तर तेजी से बढ़ा है, इसलिए काम की अधिकता को देखते हुए विद्यालय विकास एवं प्रबंधन समिति द्वारा इन विद्यार्थी मित्रों का ग्राम सहायक के रूप में चयन किया गया। उन्होंने कहा कि इस मामले में विभिन्न न्यायिक विवाद आए एवं चयन की प्रक्रिया बीच में ही रूक गई। उन्होंने कहा कि अनिता विश्नोई बनाम राजस्थान सरकार केस में न्यायालय द्वारा जो स्टे दिया गया था, वह अब समाप्त हो चुका है। इसलिए बाकी के विद्यार्थी मित्रों को भी जल्द से जल्द समायोजित करने का प्रयास किया जाएगा।

Tuesday, February 20, 2018

राजनैतिक गुरू तात्कालिक प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ सीपी जोशी को एक मत से पराजित कर पहली बार विधायक बने थे कल्याण सिंह चौहान

भारतीय जनता पार्टी के नाथद्वारा से विधायक कल्याण सिंह चौहान का बुधवार काे लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। चौहान काफी लंबे समय से केंसर से पीड़ित थे। उन्होंने सुबह तीन बजे उदयपुर के अमेरिकन अस्पताल में अंतिम सांस ली। वह अपने पीछे भरापूरा परिवार छोड़ गए है। उनके निधन की सूचना मिलते ही भारी संख्या में समर्थक उदयपुर स्थित अस्पताल के बाहर जुट गए और उनमें शोक की लहर दौड़ गर्इ।

शोक व्यक्त करने डगवाड़ा जाएंगी सीएम वसुंधरा
चाैहान का उनके पैतृक गावं डगवाड़ा में अपरांह के समय दाह संस्कार किया जाएगा। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी आज शोक व्यक्त करने डगवाड़ा जाएंगी। मुख्यमंत्री ने चाैहान के निधन पर कहा कि नाथद्वारा के ऊर्जावान और लोकप्रिय विधायक कल्याण सिंह चौहान के असामयिक निधन पर शोक संवेदनाएं व्यक्त करती हूं। चौहान भाजपा संगठन का एक अभिन्न अंग थे और उनका निधन मेरे और समस्त भाजपा परिवार के लिए एक अपूरणीय क्षति है। मैं ईश्वर से प्रार्थना करती हूं कि उनकी आत्मा को शांति एवं शोक संतप्त परिवार को इस दुखद घड़ी में धैर्य एवं साहस प्रदान करे।
कांग्रेस नेता आैर पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि नाथद्वारा से भाजपा विधायक कल्याण सिंह चौहान के निधन की जानकारी बेहद दुखद है। मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ हैं। ईश्वर से प्रार्थना है उन्हें संबल दें एवं दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें। सीपी जाेशी ने भी चाैहान के निधन पर शाेक जताया ।

उन्हाेंने कहा नाथद्वारा के विधायक कल्याण सिंह चौहान जी के असामयिक निधन पर शोक संवेदनाएं व्यक्त करता हूं एवं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वह उनकी आत्मा को शांति दे एवं उनके परिवार को इस दुख को सहन करने का साहस प्रदान करे। राजस्थान विधानसभा के 13वें चुनाव वर्ष 2008 में भाजपा से विधायक का चुनाव लड़ते हुए अपने राजनैतिक गुरू तात्कालिक प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ सीपी जोशी को एक मत से पराजित कर चाैहान पहली बार विधायक बने थे।

नाथद्वारा विधायक कल्याण सिंह का निधन

राजसमंद। भाजपा नेता कल्याण सिंह चाैहान का बुधवार तड़के निधन हाे गया। कल्याण सिंह नाथद्वारा से विधायक थे। वे विगत दो साल से अस्वस्थ चल रहे थे। उन्हाेंने उदययपुर के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली।

कल्याण सिंह चाैहान के निधन से भारतीय जनता पार्टी में शाेक की लहर छा गर्इ है। कुछ दिन पहले ही कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव डॉ सीपी जोशी अपने उदयपुर प्रवास के दौरान विधायक कल्याण सिंह की कुशलक्षेम पूछने पहुंचे थे।

दरअसल नाथद्वारा के विधायक कल्याण सिंह चौहान पिछले कुछ दिनों से उदयपुर के जीबीएच अमेरिकल हॉस्पीटल में भर्ती थे। उन्हें केंसर के चलते चार दिनों से वेंटिलेटर पर रखा गया था।

सीपी जोशी ने कल्याण सिंह के परिवार से भी मुलाकात की ओर चिकित्सकों से उनकी स्थिति के बारे में जानकारी जुटाई। आपको बता दे कि सीपी जोशी को नाथद्वारा विधानसभा सीट से 2008 के विधानसभा चुनाव में कल्याण सिंह एक वोट से हरा चुके है।

इस सीट से चुनाव में 1 वोट के फैसले से राजनीति के सभी समीकरण गड़बड़ा गए थे। 1 वोट का मामला उच्चतम न्यायालय में पहुंचा जिसमें कल्याण सिंह चाैहान को विजयी माना गया था।

वर्ष 2008 के विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री की दौड़ में रहे डॉ. जोशी को 1 वोट से हार के कारण दौड़ से बाहर होना पड़ा, हालांकि बाद में डॉ. जोशी लोकसभा चुनाव में भीलवाड़ा से सांसद चुनकर केंद्र में कैबिनेट मंत्री बन गए थे। कल्याण सिंह चाैहान का जन्म 18 नवंबर 1959 काे राजसमंद जिले की नाथद्वारा तहसील के गांव डगवाडा में हुआ था। उनके पिता का नाम दुलेसिंह चौहान था। सिंह 8वीं तक पढ़े हुए थे। इनकी राजनीति की शुरुआत 1988 से कोठारिया ग्राम पंचायत के सरपंच से शुरू हुई थी।

सिंह वर्ष 1998 से 2000 तक खमनोर पंचायत समिति के प्रधान तथा वर्ष 2000 से 2005 तक राजसमंद जिला परिषद के उपजिला प्रमुख तथा 2005 से 2008 तक जिला परिषद के सदस्य रहे। सिंह इस दौरान डॉ. जोशी के खास माने जाते थे, लेकिन वर्ष 2003 में वे कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे। इसके बाद वे भाजपा के जिला महामंत्री, राजसमंद नगर पालिका चुनाव के प्रभारी भी रहे।

Saturday, February 17, 2018

Home राष्ट्रीय राजसमंद हत्याकांड: स्वतंत्र जांच की उठी मांग, सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राजस्थान से किया जवाब तलब

राजसमंद में मुस्लिम बुजुर्ग मोहम्मद अफराजुल की हत्या के मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राजस्थान सरकार से जवाब मांगा है. कोर्ट ने यह आदेश अफराजुल की पत्नी गुलबहार की याचिका पर दिया है.
दरअसल, मृतक की पत्नी गुलबहार बीबी ने मामले की स्वतंत्र जांच कराने के लिए याचिका दी है, इसके लिए कोर्ट ने केंद्र और राजस्थान सरकार को 4 सप्ताह का समय दिया है. मामले में अगली सुनवाई अप्रैल के दूसरे हफ्ते में होगी.
इसके साथ ही ज्यादा मुआवजा और हत्या के वीडियो को इंटरनेट और ग्रुप से डिलीट करने की मांग की गई है.  याचिका में कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट केंद्र और राज्य सरकारों को निर्देश दे कि वो ऑनलाइन ‘लव जिहाद’ से संबंधित जो वीडियो है उसके सर्कुलेशन पर रोक लगाए. ऐसे वीडियो की वजह से दोनों समुदायों के बीच वैमनस्य बढ़ता है.
सीजेआई दीपक मिश्रा और जस्टिस ए. एम. खानविलकर की बेंच ने सीबीआई के वकील से कहा कि मामले की जांच करने और याचिकाकर्ता को समुचित मुआवजा देने के बारे में निर्देश प्राप्त करें.
आपको बता दें कि हेट क्राइम के चलते मोहम्मद अफ़रज़ूल को राजसमंद में बेदर्दी के साथ मार कर जला दिया गया था. उसके बाद इस घटना का वीडियो भी बना कर वायरल किया गया था.

Friday, February 16, 2018

राजसमन्द में युवाओं के जिला सम्मेलन में जिला प्रमुख एवं कलक्टर ने किया युवाओं से आह्वान

 राजसमन्द, 16 फरवरी/राजसमन्द जिला परिषद सभागार में शुक्रवार को नेहरू युवा केन्द्र के तत्वावधान में जिला युवा सम्मेलन हुआ इसमें जिले भर से सवा सौ से अधिक युवाओं ने हिस्सा लिया और सामाजिक नवनिर्माण तथा आम जन के उत्थान के लिए ग्राम्यांचलों में व्यापक लोक जागरण के साथ ही केन्द्र एवं राज्य सरकार की जन कल्याण योजनाओं के प्रचार-प्रसार में समर्पित भागीदारी का संकल्प ग्रहण किया।
       सुनहरे विकास में भागीदार बनें
       जिलाप्रमुख श्री प्रवेशकुमार सालवी ने विकास की बहुआयामी गतिविधियों का लाभ जन-जन तक पहुंचाने के लिए प्राण प्रण से जुटने और सुनहरे विकास का बेहतर परिदृश्य सामने लाने के लिए युवाओं से आह्वान किया।
       जरूरतमन्दों को लाभ पहुंचाएं
       जिला कलक्टर श्री पीसी बेरवाल ने इस अवसर पर क्षेत्रीय विकास और आम जन की भलाई की योजनाओं व कार्यक्रमों तथा अभियानों के बारे में जरूरतमन्दों में जागरुकता का संचार करने और पात्र लोगों को इनसे लाभान्वित करने के लिए खुद जानकारी पाने तथा अपने क्षेत्र के लोगों को लाभान्वित करने में आगे आने का आह्वान किया।
       युवाओं से लिया फीडबैक
       जिला कलक्टर ने युवाओं से सरकारी योजनाओं के बारे में प्रश्नोत्तर किए और उनकी जिज्ञासाएं शांत करने के साथ ही युवाओं से उनके क्षेत्र की समस्याओं के बारे में भी जानकारी पायी और कहा कि समस्याओं के समाधान के लिए जिला प्रशासन की ओर से हरसंभव कार्यवाही की जाएगी।
       सामाजिक बदलाव लाएं
       सम्मेलन में युवाओं को संबोधित करते हुए जिला परिषद की अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुश्री रौनक बैरागी ने सामाजिक बदलाव, बुराइयों के उन्मूलन और युवाओं की समस्याओं के समाधान के लिए मिलजुलकर सामूहिक प्रयासों में जुटने पर जोर दिया।
       युवा विकास पर वार्ता
       सम्मेलन में व्यक्तित्व विकास तथा स्वच्छ भारत मिशन में युवाओं की भागीदारी पर एसबीएम के राज्य संदर्भ व्यक्ति श्री राजेन्द्र शर्मा ने वार्ता प्रस्तुत की। इस दौरान आरएसएलडीसी के प्रतिनिधि श्री लादूलाल जाट ने युवाओं के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रमों की जानकारी दी और इनसे लाभ लेकर आत्मनिर्भरता पाने का आह्वान किया।
       युवाओं को पुरस्कार व सम्मान
       सम्मेलन में श्रेष्ठ युवा मण्डल का 25 हजार रुपए राशि का जिलास्तरीय पुरस्कार बरजाल (भीम) के आशापुरा नवयुवक मण्डल को प्रदान किया गया। जबकि श्रेष्ठ स्वयंसेवक का 10 हजार रुपए राशि का पुरस्कार सुश्री अंजु चारण (मेंगटिया कला, भाटोली) को दिया गया। पुरस्कार राशि के चैक अतिथियों ने प्रदान किए।
       सम्मेलन में राष्ट्रीय युवा अवार्डी श्री प्रेमशंकर भट्ट(सरसुनिया), प्रकाश बोरीवाल(भाणा), गुलाब सालवी(तासोल), लादूलाल जाट (सांसेरा)एवं शंकरलाल गाडरी(भाटोली), पर्यावरण प्रेमी श्री हेमन्तसिंह मौजावत(खमनोर), कलाविद् श्री मनोज पोरवाल(कांकरोली), युवा स्वयंसेवक श्री अजय माली(नाथद्वारा), श्री योगेश (बामनिया कला), श्री जगदीश गुजर (जनावद), श्री गोपालसिंह(बरवालिया), श्री शूरवीरसिंह झाला (सोड़ावास) आदि को स्मृति चिह्न प्रदान कर सम्मानित किया गया।
       केन्द्र की गतिविधियों पर दी जानकारी
       आरंभ में नेहरू युवा केन्द्र के जिला युवा समन्वयक श्री पवन कुमार अमरावत ने स्वागत भाषण प्रस्तुत करते हुए नेहरू युवा केन्द्र की ओर से राजसमन्द जिले में संचालित गतिविधियों और भावी योजनाओं पर जानकारी दी।  नेहरू युवा केन्द्र के हनुवन्तसिंह चौहान, राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक सर्वश्री ओमप्रकाश गुजर, देवीलाल, गायत्री गुजर, टीना शर्मा, माया सालवी, संगीता रैगर आदि ने अतिथियों का स्वागत किया।  कार्यक्रम का संचालन श्री प्रकाश बोरीवाल ने किया जबकि आभार प्रदर्शन श्री हनुवंतसिंह चौहान ने किया।
       प्रचार साहित्य वितरण
       सम्मेलन में जिले भर से आए युवा संभागियों को सूचना एवं जनसम्पर्क कार्यालय, राजसमन्द की ओर से सरकारी योजनाओं से संबंधित प्रचार साहित्य एवं सुजस पत्रिका का वितरण किया गया।

सडक हादसा : बच्ची सहित चार की मौत

9 यात्री घायल हो गए हैं 
राजसमंद जिला मुख्यालय पर राजनगर थाना क्षेत्र के पीपरडा के पास अलसुबह एक निजी बस और डंपर की भिड़ंत हो गयी। जिससे बस में सवार 4 यात्रियों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गयी जबकि हादसे में 9 यात्री घायल हो गये। सूचना पर राजनगर थाना पुलिस मौके पर पंहुची और घायलों को आरके चिकित्सालय पहुंचाया।
वहीं हाईवे पर दुर्घटना से दोनों तरफ वाहनों की कतारें लग गयी जिन्हें पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद हटवाकर यातायात बहाल किया। इनमें से दो की हालत गंभीर होने पर उन्हें उदयपुर रैफर कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार यह बस सूरत से रवाना होकर भीलवाड़ा के आसींद जा रही थी। सुबह नाथद्वारा में चाय पीने के बाद आसींद के लिये रवाना हुई तभी ओवरटेक करने के प्रयास में बस का एक कोना डंपर से टकरा गया जिससे डंपर पलट गया।
सूचना के बाद एसडीएम राजेन्द्र अग्रवाल सहित पुलिस के अधिकारी मौके पर पंहुचे और हालात का जायजा लिया। फिलहाल पुलिस ने सभी मृतकों के शव जिला चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाकर परिजनों को सूचना देकर बुलवा लिया है।